Tag: Dr. Nutan Jani

Posted in પદ્ય સાહિત્ય

अमृता प्रीतम નાં કાવ્ય मेरा पताનો અનુવાદ

मेरा पता आज मैंनेअपने घर का नम्बर मिटाया है और गली के माथे पर लगागली का नाम हटाया है और हर सड़क कीदिशा का नाम…

આગળ વાંચો